Friday, April 19, 2024

ढाका में आयोजित भीम संवाद में भाजपा के खिलाफ खूब गरजे महेश्वर हजारी एंव मंत्री सुनील कुमार

तिरहुत डेस्क (नई दिल्ली)। बिहार प्रदेश जदयू द्वारा ढाका में आयोजित अनुमंडल स्तरीय भीम संवाद कार्यक्रम में बिहार विधान सभा के उपाध्क्ष महेश्वर हज़ारी एंव बिहार राज्य निबंधन, उत्पाद एंव मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार भाजपा के विरुद्ध खूब गरजे। जदयू जिलाध्यक्षा मंजू देवी की अध्यक्षता में आयोजित भीम संवाद में बिहार विधानसभा उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी ने कहा कि दलितों ने आजादी की लड़ाई में सराहनीय योगदान दिया था लेकिन आज भाजपा सरकार दलितों के अस्तित्व को समाप्त करने में लगी है, वोट का सम्मान बेटी के समान है, अपने वोट का सही सम्मान करें, चुनाव के समय भाजपा के जात धर्म के धोखे में ना आएं। नीतीश की ईमानदार प्रयासों से आज बिहार विकास के मामले में बहुत आगे बढ़ चुका है, नीतीश कुमार ही दलितों के सच्चे हितैषी हैं। बिहार राज्य निबंधन, उत्पाद एंव मद्य निषेध मंत्री सुनील कुमार ने कहा कि नीतीश समाज को एक माला में पिरो कर रखने का काम करते हैं, आज अलगाववादी ताकतें मजबूत हो रही हैं इसलिए अति आवश्यक है कि हम एकजुट रहें, 2024 और 25 का चुनाव देश की दशा और दिशा तय करने वाला है, आज देश की प्रजातांत्रिक ढांचा को खतरा है, मीडिया की स्वतंत्रता भी खतरे में है, सरकारी संस्थाओं का दूरूपयोग किया जा रहा है, सभी सरकारी चीजों को पूंजीपतियों को सौंपा जा रहा है, और जो लोग इसका विरोध करते हैं उन्हें जेल में बंद कर दिया जाता है। तमाम सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। भाजपा के सैकड़ों नेता लाखों और अरबों करोड़ के घोटाले कर के बैठे हैं लेकिन एजेंसियां उनकी जांच नहीं करती क्योंकि सत्ता उनके पास है। आज दलितों को बाबा साहब के संविधान की रक्षा के लिए आगे आना होगा तभी जाकर देश सही मायनों में संविधान रूपी होगा। पूर्व सांसद कैलाश बैठा ने भी दलितों को एकजुट होकर अपने अधिकार के लिए आगे आने को कहा, जदयू विधान पार्षद डॉ खालिद अनवर ने कहा कि बिहार सहित देश के सभी दलितों के हकुक के लिए नीतीश कुमार मजबूती से खड़े हैं। इसके अलावा विधायक रतनेश सदा, पूर्व विधान पार्षद राजेश राम, जदयू तिरहुत प्रमंडल प्रभारी रॉबिन कुमार, कार्यक्रम समन्वयक हेमराज ढाका जदयू प्रखंड अध्यक्ष नेहाल अख्तर ने लोगों को संबोधित किया। इस अवसर पर संजीव सिंह, बबन सिंह, एमएलसी प्रतिनिधि आफताब आलम, जदयू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जियाउल हक, शहाबुद्दीन फारूकी कमरे आलम आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Stay Connected

7,268FansLike
10FollowersFollow

Latest Articles